Train में RAC टिकट का मतलब क्या होता है। यह कब कन्फर्म होता है। RAC ka full form.

जय हिंद दोस्तों कैसे हैं आप लोग hindimetalk.com पर आपका स्वागत है आज हम लोग जानेंगे कि ट्रेन के टिकट पर rac ka matlab क्या होता है और rac ka full form क्या होता है तथा RAC वाला टिकट कब कंफर्म होता है।  कहने का अर्थ यह है कि आरएसी से जुड़े सभी सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगा।

अक्सर लंबी दूरी की ट्रेनें जैसे महाराष्ट्र गुजरात के मुंबई अहमदाबाद सूरत जैसे बड़े महानगरों में जाने के लिए या फिर इन शहरों से अपने घर जाने के लिए ट्रेन की टिकट को एक महीना पहले ही बुक करना पड़ता है यदि ऐसा नहीं करते हैं तो कई बार चालू टिकट लेकर या फिर वेटिंग लिस्ट का टिकट लेकर जाना पड़ता है

ऐसे में कुछ लोग RAC का या फिर वेटिंग लिस्ट का टिकट कटा लेते हैं जिनमें से कुछ लोगों का टिकट कंफर्म हो जाता है और बर्थ अलॉट कर दिए जाते हैं जबकि कुछ लोगों को आरएसी और वेटिंग लिस्ट वाले टिकट के साथ ही सफर करना पड़ता है तो आइए जानते हैं RAC ticket के बारे में।


RAC का मतलब  क्या होता है। Railway me rac ka matlab. Rac train ticket.

train-me-rac-ka-matlab.

ट्रेन के टिकट पर लिखे RAC का फुल फॉर्म reservation against cancellation होता है जिसका मतलब होता है कि यदि उस ट्रेन में कोई रिजर्वेशन वाला व्यक्ति अपना टिकट कैंसिल करेगा तो आपका आरएसी वाला टिकट कंफर्म हो जाएगा। मतलब आपको रिजर्वेशन का सीट और टिकट मिल जाएगा। अगर आपके पास rac ticket हैं तो आप ट्रेन में यात्रा कर सकते हैं और आपको सीट भी मिलेगा लेकिन इसमें आपको केवल बैठने के लिए सीट मिलता है।

Rac टिकट के लिए रिजर्वेशन के एक ही सीट को दो यात्रियों में बाट दिया जाता है इसलिए एक सीट के लिए दो टिकट जारी किए जाते है और एक सीट पर दो यात्री सफर करते हैं यदि ट्रेन में कोई रिजर्वेशन वाला व्यक्ति यात्रा नही कर रहा है तो टीटी आरएसी टिकट वाले यात्री को उस व्यक्ति का रिजर्वेशन वाला सीट दे सकता है। वास्तव मे सभी ट्रेनों में आरएसी की सीटे निर्धारित होती है।

Rac seats ट्रेन के स्लीपर कोच, 2 टियर एसी तथा 3 टियर एसी में होती है और इन सभी डिब्बों के आरएसी सीट के लिए side lower सीट आरक्षित होती है। एक स्लीपर कोच में आरएसी की 7 सीटे होती है जिसके लिए जिन्हे 14 यात्रियों को टिकट दिया जाता है और 3 टियर एसी में 4 सीटे होती है जिसके लिए 8 यात्रियों को टिकट दिया जाता है जबकि 2 टियर एसी में आरएसी के लिए 3 सीटे होती है जिसके लिए 6 यात्रियों को टिकट दिया जाता है।

आरएसी टिकट वाले यात्री को हमेशा ट्रेन के प्रत्येक कोच में side lower सीट आवंटित होती है, जो खिड़की के पास में होती हैं सभी ट्रेनों में rac सीट का स्थान फिक्स होता हैं इसकी स्थिति नही बदलती है। एक ट्रेन में आरएसी की कुल 71 सीटें होती है जिन्हे 142 यात्रियों को एलॉट किया जाता है प्रत्येक सीट पर दो यात्री सफर करते है।
rac-seat-in-train.

ट्रेन का चार्ट ट्रेन चलने के चार घंटे पहले तैयार होता है आरएसी टिकट चार्ट तैयार होते समय या चार्ट तैयार होने से कुछ समय पहले तक कंफर्म हो जाता है। कई बार यह चार्ट तैयार होने बाद भी कंफर्म हो जाता है इसलिए ट्रेन चलने के आधे घंटे पहले एक बार अपने पीएनआर की स्थिति जरूर चेक करे।

Train चलने के 30 मिनट पहले अगर आप अपना आरएसी टिकट कैंसिल कराते हैं तो आपको TDR के मध्यम से पूरा रिफंड मिल जाएगा।


RAC ka full form. Full form of rac. 

rac full form: reservation against cancellation.
rac ka full form: Reservation Against Cancellation.
rac full form in hindi: रद्द करने पर आरक्षण।
Rac full form hindi: रद्द करने पर आरक्षण।
Rac full form in railway: RESERVATION AGAINST CANCELLATION.
Full form of rac: reservation against cancellation.

Rac meaning in Hindi. rac means in hindi.

What is rac meaning in hindi: rac का हिंदी में मतलब रद्दीकरण के खिलाफ आरक्षण या रद्द करने पर आरक्षण होता है। इसे हिंग्लिश और इंग्लिश दोनो में रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन कहा जाता है।

आरएसी टिकट कब कंफर्म होता है? When rac ticket will confirm.

आरएसी टिकट कब कनफर्म र्होता है आईये इसको एक उदाहरण से समझते हैं, मान लीजिए कि एक ट्रेन में 100 सीट है जिसमें से 90 रिजर्वेशन का है और 10 आर ए सी का है। तो टिकट जारी करते समय सबसे पहले रिजर्वेशन की सभी सीटे दी जाती है उसके बाद आरएसी की सभी सीटें बुक होंगी फिर उसके बाद वेटिंग लिस्ट का टिकट जारी किया जाता है। 

अब यदि 90 रिजर्वेशन वाले यात्रियों में से कोई अपना टिकट कैंसिल करता है तो 91 वे नंबर पर जो आरएसी वाला टिकट है वह सबसे पहले कंफर्म होगा यानी अब उसको रिजर्वेशन का टिकट मिल जाएगा। इसी तरह से अगर और भी रिजर्वेशन के टिकट कैंसिल होंगे तो आर ए सी के टिकट कंफर्म हो जाएंगे। 

अब जब आरएसी के टिकट कंफर्म हो जाते हैं और उन्हें रिजर्वेशन का टिकट मिल जाता है तो वेटिंग लिस्ट में सबसे आगे वाले टिकट धारक को आरएसी का टिकट दे दिया जाता है यही प्रक्रिया निरंतर चलती रहती है जब तक ट्रेन का चार्ट तैयार नहीं हो जाता है।


FAQ related to: rac train ticket in hindi.

Q.) क्या आरएसी टिकट पर यात्रा कर सकते हैं?

जी हां बिल्कुल कर सकते हैं आरएसी टिकट में आपको सीट भी दिया जाता है और सीट नंबर भी दिया जाता है लेकिन इसमें केवल बैठने के लिए जगह मिलती है। आरएसी टिकट में आपको आपके सीट की स्थिति चार्ट प्रिपेयर होने के बाद पता चलेगा।

Q.) वेटिंग लिस्ट और आरएसी में क्या अंतर है?

वेटिंग लिस्ट और आरएसी में मुख्य अंतर यह है कि आरएसी में आपको एक सीट एलोट किया जाता है बैठने के लिए जबकि वेटिंग लिस्ट में कोई सीट एलॉट नहीं किया जाता है। 

Q.) आरएसी और वेटिंग लिस्ट में कौन बेहतर है?

आरएसी और वेटिंग लिस्ट में बेहतर आरएसी है क्योंकि इसके साथ आप आराम से बैठकर यात्रा कर सकते हैं जबकि वेटिंग लिस्ट में आपको बैठने तक की अनुमति नहीं होती है हो सकता है कि कहीं जगह खाली हो तो हम बैठ सकते हैं लेकिन यह बहुत रेयर केस में होता है कि आपको कहीं सीट खाली मिल जाए। और वेटिंग लिस्ट की अपेक्षा आरएसी टिकट के कंफर्म होने की संभावना अधिक होती है।

Q.) आरएसी टिकट कितने नंबर तक कंफर्म हो जाता है?

अक्सर 15 से 20 नंबर तक आरएसी टिकट आसानी से कंफर्म हो जाता है लेकिन अलग-अलग ट्रेन अलग-अलग जगह के हिसाब से और सिचुएशन के आधार पर यह संख्या ऊपर नीचे हो सकती है।

Q.) आरएसी यात्री कहां बैठते हैं?

प्रत्येक ट्रेन में आरएसी टिकट वाले यात्री के लिए कोच के साइड लोअर में सीट आरक्षित होती हैं जिसमें 1 सीट को 2 यात्रियों द्वारा साझा किया जाता है। इसके बारे में मैंने ऊपर अच्छे से चर्चा किया वहां पर इसकी एक तस्वीर भी है।

Q.) क्या मुझे आरएसी में सीट मिलेगी?

जी हां बिल्कुल मिलेगी लेकिन ट्रेन का चार्ट तैयार होने से कुछ समय पहले या चार्ट तैयार होने के बाद मिलेगी। लेकिन इस बात की गारंटी है कि आपको सीट मिलेगी ही मिलेगी नहीं तो मार हो जाएगा। 😀

Q.) ट्रेन में आरएसी की कितनी सीटें होती हैं?

ट्रेन में आरएसी की कुल 71 सीटें होती हैं जिसके लिए 142 टिकट जारी किए जाते हैं यानी एक सीट के लिए 2 यात्रियों को टिकट दिया जाता है। ये संख्या सभी श्रेणी के कोच में दिए जाने वाले कुल आरएसी टिकट की है।

Q.) आरएसी टिकट कैंसिल करने पर कितना चार्ज लगता है?

यदि आप ट्रेन चलने के आधे घंटे पहले अपना टिकट कैंसिल कराते हैं तो आपको किसी प्रकार का कोई भी चार्ज नहीं देना पड़ता है और आपको पूरा पैसा वापस मिल जाता है कि डीआर के माध्यम से।

और अगर आपने अपनी फैमिली का टिकट बुक किया है जिसमें से कुछ लोगों का टिकट कंफर्म हो गया है और कुछ लोगों का नहीं हुआ है तो ऐसे में बाकी लोगों का जिनका टिकट कंफर्म नहीं हुआ है उनका पैसा पूरा रिफंड हो जाता है बिना किसी प्रकार का चार्ज कटे।

Q.) ट्रेन का चार्ट कितने घंटे पहले बनता है?

भारत में चलने वाली सभी ट्रेनों का चार्ट ट्रेन चलने के 4 घंटे पहले तैयार हो जाता है। वास्तव में यह चार्ट एक डाटा बुक होता है जिसमें ट्रेन के प्रत्येक डिब्बे के अंदर बैठे प्रत्येक यात्री का नाम सीट नंबर और उसकी कुछ पर्सनल जानकारियां होती है इनके माध्यम से TT कंफर्म करता है कि टिकट बुक करने वाला यात्री ही यात्रा कर रहा है।

Q.) Train में Rac सीट कहा होती है?

आरएसी सीट्स ट्रेन के स्लीपर कोच, 2 टियर एसी, 3 टियर एसी में होती है और इन सभी डिब्बों के आरएसी सीट के लिए side lower सीट आरक्षित होती है।


Conclusion!
तो आज हमने इस लेख के माध्यम से जाना कि ट्रेन में rac ka matlab क्या होता है ट्रेन में आरएसी सीट कहा होता है तथा rac का फुल फॉर्म रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन होता है और यह कब कंफर्म होता है। इसमें हमे सीट भी मिलती और हम इसके साथ हम यात्रा भी कर लेकिन केवल बैठकर।

अगर आपके पास RAC ticket से जुड़ा कोई सवाल जिसका जवाब हमने इस लेख में नही दिया है तो आप हमे करके बता सकते हैं हम आपके उस प्रश्न को इस लेख में सामिल कर देंगे।

इसके अलावा भी आपके मन में कोई सवाल है या फिर आप हमे कोई सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे दिए गए हमारे इंस्टाग्राम ID  पर हमसे पूछ सकते हैं। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ट्रेन में जनरल डिब्बे की पहचान कैसे करें।ऐसे पहचाने ट्रेन में जनरल डिब्बे को।

Moj app से पैसे कमाने के 5 सबसे आसान तरीके 2022

एक करोड़ में कितने जीरो होते है। How many zero in 1 crore.